टोटके-नुस्ख़े

गोलगप्‍पे खाने के शौकीन हैं तो जान लें इससे होने वाले ये जबरदस्‍त फायदे, ठीक कर देती है कई बीमारियां

ये बात तो हम सभी जानते हैं कि हममें से कई लोगों को चटपटा खाना पसंद है लेकिन वहीं आपको ये भी बता दें कि चटपटा खाने में लड़कियां सबसे आगे होती है। अगर हम बात करें गोलगप्‍पे की तो अक्‍सर आपने देखा होगा कि लोग इसे बड़े चाव से खाते हैं। आप भारत के किसी भी कोने में चले जाएं लेकिन आपको गोलगप्पे ज़रूर दिख जाएँगे। वैसे तो ये हर जगह मिल जाते हैं लेकिन हर जगह का स्‍वाद और बनाने का तरीका थोड़ा अलग होता है।जब गोलगप्पे खाने की बात आती है तो हर किसी के मुंह में पानी जरूर आ जाता है। यह एक ऐसी डिश है, जिसे न सिर्फ मुंह के टेस्ट को बदलने के लिए बल्कि आपके सेहत के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है।

शहर-गांव, गली-कूचे और हर चौराहों पर मिलने वाले गोलगप्पा यदि सीमित मात्रा और सही समय पर खाया जाए तो यह मोटापा तक भी कम करने में कारगर साबित हो सकता है। हालांकि देशभर के विभिन्न क्षेत्रों में इसे अलग-अलग नामों से पुकारा जाता है। जैसे महाराष्ट्र में पानी पुरी, हरियाणा में पानी के पताशे, उत्तर प्रदेश में पानी के बताशे या पताशी या फिर फुल्की, वेस्ट बंगाल में पुचके, उड़िसा में गुपचुप और गुजरात में पकोड़ी आदि नामों से जाना जाता है। लेकिन आज हम आपको गोलगप्‍पे के बारे में जो बताने जा रहे हैं वो शायद आपको नहीं पता होगा।

जी हां आपको बता दें कि गोलगप्पे केवल खाने में ही स्वादिष्ट नहीं होते हैं बल्कि ये हमें कई तरह की बिमारीयों से भी दूर रखते हैं। जी हां आपको बता दें कि कई सारी ऐसी छोटी-मोटी बीमारियाँ हैं, जिनमें गोलगप्पे खाने से फ़ायदा होता है। इसके लिए यह भी सबसे ज़रूरी होता है कि गोलगप्पे कैसे बनाए गए हैं और उनमें क्या-क्या चीज़ें मिलायी गयी हैं। आज हम आपको बताएँगे कि गोलगप्पे खाकर आप किन बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

Source-Google

तो आइए जानें आखिर गोलगप्पे खाने से कौन कौन सी बिमारियां दूर हो जाती हैं:

अक्‍सर हमें कभी मुंह में छाला हो जाता है तो आपने महसूस किया होगा वो काफी दर्द देता है इतना ही नहीं कुछ भी खाने पर मुँह में बहुत ज़्यादा जलन होती है। तो आपको बता दें कि अगर आपके भी मुँह में छाले हो गए हैं तो आप बेफिक्र होकर एक प्लेट गोलगप्पे खा लीजिए। क्‍योंकि गोलगप्पे का पानी तीखा होता है और इसे खाने से मुँह के छाले ठीक हो जाते हैं। हालाँकि कई बार ज़्यादा गोलगप्पे खाने से परेशानी भी बढ़ जाती है।

Source-Google

वहीं ये भी बता दें कि गोलगप्पे के मसाले में पानी और पुदीने का इस्तेमाल किया जाता है जो कि हाजमें के लिए बेहद ही उपयुक्‍त साबित होती है। इसलिए अगर आपको गैस जैसी किसी भी तरह की समस्‍या है तो आप गोलगप्पे खा लिजिए ऐसा करने से आपको गैस से राहत मिल जाती है।मूड को बदलने के लिए भी गोलगप्‍पा एक अच्‍छा एजेंट है जी हां आपको बता दें कि आपको कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा है तो आप अपना मूड ठीक करने के लिए गोलगप्पे खा सकते हैं। इससे ना केवल आपकी थकान मिट जाएगी बल्कि आप तरो-ताज़ा महसूस करेंगे।

Source-Google

अक्‍सर आपने सुना होगा कि जो लोग ज्‍यादा खाना खाते हैं उनका पेट बाहर की तरफ निकला हुआ होता है लेकिन वहीं आपको बता दें कि गोलगप्पों के साथ ऐसा नहीं है। अगर गोलगप्पों को सही तरह से बनाया जाए तो इससे वज़न भी कम होता है। जी हां आपको बता दें कि गोलगप्पे के पानी में अगर मीठा ना डाले जाएँ, इसकी जगह केवल पुदीना, हींग, नींबू और कच्चा आम मिला हो तो इससे मोटापा नहीं बढ़ता है।इसके साथ गोलगप्पे मैदे की जगह आटे का बना हुआ खाएँ। लेकिन ये बात जरूर ध्‍यान रखें कि आपको वर्कआउट करने से पहले या बाद में गोलगप्पे नहीं खाने चाहिए।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close