जहर खाने के बराबर है इन 2 चीजों को दोबारा से गर्म करके खाना

स्वास्थ्य का अर्थ समय के साथ विकसित हुआ है। बायोमेडिकल परिप्रेक्ष्य को ध्यान में रखते हुए, शरीर की कार्य करने की क्षमता के विषय पर केंद्रित स्वास्थ्य की प्रारंभिक परिभाषा; स्वास्थ्य को सामान्य कार्य की स्थिति के रूप में देखा गया था जो कि समय-समय पर रोग से बाधित हो सकता है। स्वास्थ्य की ऐसी परिभाषा का एक उदाहरण है: “शारीरिक, शारीरिक और मनोवैज्ञानिक अखंडता की विशेषता वाला राज्य; व्यक्तिगत रूप से मूल्यवान परिवार, कार्य और सामुदायिक भूमिकाएं करने की क्षमता; शारीरिक, जैविक, मनोवैज्ञानिक और सामाजिक तनाव से निपटने की क्षमता” ।

अकसर जो खाना बच जाता है हम उसे फ्रिज में रख देते हैं और बाद में या अगले दिन उसे गर्म करके फिर से खा लेते हैं। कई बार हम बचे हुए खाने से एक नई ड‍िश बना लेते हैं ताकि खाना बर्बाद भी न हो और ऐसा भी न लगे कि एक ही चीज को बार-बार खा रहे हैं।
इसमें अब भी उतने ही पौष्टिक ततव मौजूद हैं जितने तब थे जब ये एकदम फ्रेश बना था। शायद नहीं, दरअसल खाने को जितनी बार आप गरम करते हें वो अपनी न्‍यूट्रीश्‍नल वैल्‍यू उतनी ही खोने लगते हैं। जाने वो कौन से फूड आइटम्‍स हैं जिन्‍हें अधिक गर्म किया जाए तो वो नुकसानदायक साबित हो सकते हैं।

चिकन को दोबारा गर्म करके खाना हानिकारक हो सकता है। दोबारा गर्म करने के बाद इसमें मौजूद प्रोटीन कॉम्पोजिशन बदल जाता है जिससे पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी कि आलू को उबालकर खाना शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। दरअसल उबले आलू को अगर आप तुरंत खा लेते हैं यानी जब वो फ्रेश हो तो वो ज्‍यादा नुकसान नहीं पहुंचाता। लेकिन आलू उबालकर रखना और उसके बाद कुछ दिनों तक उसका इस्‍तेमाल पेट के लिए अच्‍छा नहीं होता है। इसलिए इसे जब भी पकाएं बस एक बार खाने लायक ही पकाएं। फ्रिज में रखकर दोबारा गर्म ना करें।