टेक्नोलॉजी

मुकेश अम्बानी ने कोरोना वायरस के चलते देश हित मे गरीबो के लिए खोल दिया अपना खजाना।

हमारे देश भारत मे 23 मार्च तक कोरोना वायरस के 500 मरीज पॉजिटिव पाए गए है और 10 लोगो की कोरोना वायरस मौत हो चुकी है।

और इसी बीच देश के सबसे बड़े उधोगपति मुकेश अम्बानी ने बड़ी घोषणा की है, और अपने खजाने देश के लिए कोरोना वायरस के खिलाफ खोल दिये है।

रियलाइंस इंडस्ट्रीज के द्वारा दिये जाने वाले योगदान:


मुकेश अम्बानी ने कहा कि रिलायन्स इंडस्ट्री इस संकट की व्हदी में भारत सरकार के साथ खड़ी है।

सर एच एन रीयलाइंस फाउंडेशन हॉस्पिटल ने सिर्फ दो हफ़्तों में मुम्बई नगर निगम के सहयोग से मुम्बई के सेवन हिल्स हॉस्पिटल में 100 बेड का एक आइसोलेशन सेंटर बनाया है इस सेंटर उन मरीजो को रखा जाएगा जिनका कोरोना टेस्ट पोसिटिव पाया गया है। और इस आइसोलेशन सेंटर को सीधे रियलाइंस इंडस्ट्री फण्ड करेगा।

और रियलाइंस इन्डस्ट्री लिमिटेड ने महाराष्ट्र के लोधिवली में एक और आइसोलेशन सेंटर बनाया है और इस सेंटर को वहां के स्थानीय अधिकारियों को सौप दिया है और इस सेंटर के लिए रियलाइंस जीवन विज्ञान ने कोरोना टेस्टिंग के लिए जरूरी कीट्स और उपभोग की चीजें दूसरी देसो से आयात भी कर रही है।

रियलाइंस इंडस्ट्री फुटफात पर रहने वाले उन गरीब लोगो को मुफ्त में भोजन करवाएगा जिन लोगो की कोरोना वायरस के कारण रोजी रोटी भी छीन गयी है, और ये काम एनजीओ के द्वारा होगा, फण्ड रियलाइंस इंडस्ट्री देगा लेकिन काम एनजीओ करेंगे।

और रियलाइंस इंडस्ट्री ने सवस्थ्य कर्मचारियों के लिए 100000 फेस मास्क बनाने की घोषणा भी की है और स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए सिक्योरिटी सूट, सुरक्षा उपकरण, और गारमेंट भी तैयार कर रही है।

रियलाइंस इंडस्ट्री कोरोना के मरीजो को लाने ले जाने के लिए इस्तेमाल होने वाले सभी वाहनों को मुफ्त में गैस एवं पैट्रोल डीजल मुहैय्या करवाएगी।

रियलाइंस इंडस्ट्री अपने सभी कॉन्ट्रैक्ट और स्थायी कर्मचारियों को कोरोना वायरस के कारण जॉब पर ना आने पर भी सैलरी देगी, कोई सैलरी नही काटेगी, और जिनकी सैलरी 30000 रुपये से कम है उनको एक महीने में 2 बार सैलरी मिलेगी।

और रियलाइंस इंडस्ट्री “हैसटैग कोरोना हारेगा जीतेगा इंडिया” अभियान भी चला रही है, और रेलिंस इंडस्ट्री अपनी सभी ग्रोसरी शॉप और करना स्टोर पर सभी जरूरत की चीज़े राशन, फल और सब्जियां, रोटी, नाश्ता अनाज और दैनिक उपयोग की अन्य वस्तुओं रखेगा जिससे आम लोगो को आपातकाल जैसी परिस्तिथियों में दिया जा सके।

रेलिंस इंडस्ट्री ने महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ भी कोरोना वायरस की लड़ाई के लिए दिए है।

रियलाइंस इंडस्ट्री ने एक्शन प्लान को अमल में लाने के लिए रिलायंस फाउंडेशन, रिलायंस रिटेल, जियो, रिलायंस लाइफ साइंसिज, रिलायंस इंडस्ट्रीज ओर रिलायंस परिवार के सभी 6,00,000 सदस्यों की संयुक्त ताकत को अमल में लाना शुरू कर दिया है।

Tags
Show More

Related Articles

Close