15 अप्रैल को रेलवे, स्कूल-कॉलेज और ऑफिस खुलेंगे? जानें क्या है लॉकडाउन पर सरकार की तैयारी?

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार ने 21 दिनों का लॉकडाउन किया था जो 14 अप्रैल तक पूरे देश में लॉकडाउन है। बाजार बंद हैं, ट्रेनें, बसें, हवाई जहाज, टैक्सियां कुछ भी नहीं चल रहा। ऐसे में सरकार ने लॉकडाउन खोलने की तैयारियों पर चर्चा शुरू कर दी है और 15 अप्रैल से लॉकडाउन खुल जाएगा, लेकिन लॉकडाउन पूरी तरह से नहीं खुलेगा, बल्कि इसे लेकर कुछ बंदिशे रहेंगी, जिनके बारे में आपको जान लेना जरुरी है।

कम संक्रमण वाले जिलों में पहले हटेगा लाकडाउन

सरकार पहले उन जिलों से लॉकडाउन हटाएगी, जहाँ कोरोना वायरस संक्रमण अपेक्षा काफी कम है। इसमे भी वायरस संक्रमण वाले हॉट स्पॉट चिन्हित किए जा रहे हैं। जो शहर या जिले इसके लिए हॉटस्पॉट हैं वहां से धीरे धीरे लॉकडाउन हटाया जाएगा। इनमे खास जांच की जाएगी।

स्कूल कालेज बंद रहेंगे, फंसे लोगों को मिलेगी तरजीह

सूत्रों के मुताबिक, सरकार बेसिक व माध्यमिक स्कूल व कॉलेज आगे भी एक निश्चित अवधि तक बंद रखेगी लेकिन टेक्निकल व व्यवसायिक कॉलेज खोलने की तैयारी है। लॉकडाउन जब खुलेगा तब पहले उन लोगों को आने जाने में तवज्जों दी जाएगी, जो कई दिनों से इधर उधर फंसे हुए हैं। और घर नहीं जा पा रहे हैं। इसके लिए सीमित दायरे में परिवहन सेवा शुरू होगी।

बाजार व मंडियां खुल सकती हैं, माल रह सकते हैं बंद

बाजार व मंडियों को खोला जाएगा। माल में मल्टीपलेक्स को इस दायरे से बाहर रखने की योजना बन रही है। सरकार का जोर 15 के बाद भी कही भी किसी रूप में भीड़ न लगने देने का है। मौजूदा वक्त की सारी ऐहतियात बाद में भी सख्ती से बरती जाएगी। इसमें समूह में न निकलने से लेकर सैनिटाइजेशन तक शामिल हैं।

लॉकडाउन खुलने पर भी सोशल डिस्टेंसिंग – योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अगर 15 अप्रैल से लॉकडाउन खुलता है तो भी लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करना होगा। हालातों को काबू में लाने के लिए प्रयास किए जाएंगे। जो लोग फंसे हैं उन्हें पहले निकाला जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जरूरतमंद तक समय से भोजन पहुंचाने के लिए स्वयंसेवी संस्थाओं की भी मदद लें।

80 फीसदी से अधिक ट्रेन 15 अप्रैल से चलेगी

रेलवे ने 21 दिन के लॉकडाउन के बाद आगामी 15 अप्रैल से अधिकांश यात्री ट्रेन चलाने के लिए कमर कस ली है। इसके तहत शुक्रवार को रेल प्रशासन ने ड्राइवर, गार्ड, स्टेशन मैनेजर व अन्य कर्मचारियों को ट्रेन का टाइमटेबल भी भेज दिया है। रेलवे बोर्ड ने सभी 17 जोनल रेलवे से रद्द ट्रेन को चलाने के लिए तैयार रहने को कहा है। इसके तहत उत्तर रेलवे ने 244 ट्रेन का टाइमटेबल संबंधित रेल अधिकारियों व कर्मचारियों को भेज दिया है।