योगी सरकार ने किया ये ऐलान, जानिए उत्तर प्रदेश में कब खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

लॉकडाउन 5.0 में लोगों को तमाम तरह की राहत मिलनी प्रारम्भ हो जाएगी। लेकिन, स्कूल कॉलेज खुलने को लेकर लोगों के मन में एक संशय की स्थिति बनी हुई है। वहीं गृह मंत्रालय के पांचवे चरण के लॉकडाउन की घोषणा के बाद से यह चिंता व भी ज्यादा बढ़ गई है, क्योंकि केन्द्र सरकार ने स्कूलों व कॉलेजों को खोलने की बात तो कही है लेकिन प्रदेश सरकारों व संघ शासित प्रदेशों से राय मशविरा करने के बाद ही ऐसा किया जाएगा।

कई प्रदेश कर चुके हैं स्कूल खोलने की घोषणा


बता दें कि देश के कई राज्यों में स्कूलों को खोलने की घोषणा की जा चुकी है। पूर्वोत्तर प्रदेश ने घोषणा की है कि 1 जून से प्रदेश में स्कूलों को खोला जाएगा। वहीं सिक्किम ने भी 15 जून से स्कूलों को खोलने की घोषणा की है। इसके अतिरिक्त आंध्र प्रदेश ने 3 अगस्त से प्रदेश में स्कूलों को खोलने का ऐलान किया है। वहीं सीबीएसई की बात करें तो हाल ही में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने ऐलान किया एनसीआरटी व यूजीसी मिलकर गाइडलाइन्स तैयार कर रही है ताकि स्कूलों को खोला जा सके। उनका बोलना था कि विद्यार्थियों का खयाल रखते हुए स्कूलों को खोला जाएगा।

योगी सरकार ने की ये घोषणा

वहीं गृह मंत्रालय की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में योगी सरकार सक्रिय हो गई व लॉकडाउन 5.0 को लेकर तमाम तरह की गाइडलाइन्स जारी कीं। इस गाइडलाइन्स में सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्कूलों व कॉलेजों को लेकर भी अपना पक्ष ज़ाहिक किया। योगी आदित्यनाथ ने बोला कि जुलाई में स्कूलों व कॉलेजों को केन्द्र सरकार की सलाह के बाद खोला जा सकता है। ज़ाहिर है उन्होंने अपनी मंशा बता दी है कि अगर परिस्थितियां अच्छा रहेंगी तो बहुत ज्यादा उम्मीद है कि स्कूलों व कॉलेजों को खोल दिया जाएगा। ऐसे में विद्यार्थियों को बहुत ज्यादा राहत मिलेगी।

लॉकडाउन 5.0 को लेकर लिए कई फैसले


इसके अतिरिक्त योगी सरकार ने अन्य घोषणाएं भी की हैं। उत्तर प्रदेश में पहले चरण में धार्मिक स्थल,होटल, रेस्टोरेंट व अन्य मेहमान सत्कार सेवाएं और शॉपिंग मॉल्स खोले जाएंगे। हालांकि, ये सारी ऐक्टिविटी कंटेनमेंट ज़ोन के लिए लागू नहीं होगी। स्कूल व कॉलेजों को दूसरे चरण में खोला जाएगा जो कि केन्द्र सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार प्रस्तावित है।