अगर आप भी करते हैं ये 8 काम तो भगवान शिव के क्रोध से आपको कोई नहीं बचा सकता

shiv

भोलनाथ अपने भक्तों पर हमेशा खुश रहते हैं। शिवजी के गुस्से के बारें में कहा जाता है कि अगर शिवजी को गुस्सा आ गया और उन्होंने अपनी तीसरी आंख खोल दी तो दुनिया का अंत हो जाएगा। शिव पुराण में शिवजी के बारें लिखा गया है कि कुछ पाप ऐसे हैं जिन्हें शिवजी कभी माफ नहीं करते।

शिव जी उन लोगों को कभी माफ नहीं करते जो सोच कर पाप करते हैं। कहा जाता है कि आपके दिमाग में क्या चल रहा है भगवान सब जानते हैं। अगर आपसे अनजाने में और गलती से कोई पाप हो गया है तो शिवजी कुछ नहीं कहते लेकिन आपने सोच-समझकर कुछ पाप किया है तो फिर आप उनसे नहीं बच सकते।

shiv2
source:google

दूसरे की पत्नी या पति पर गलत नज़र रखना. शिव पुराण में कहा गया है कि अगर आप किसी दूसरे के पति या पत्नी पर बुरी नजर रखते हैं तो ये पाप की श्रेणी में रखा गया है।

किसी धान की हुई वस्तु को वापस लेना, अपने गुरु की पत्नी के साथ संबंध बनाना। महापाप की क्षेणी में आते हैं। ऐसे अपराध करने वाले को भगवान शिव कभी माफ नहीं करते। गलत तरीकों से किसी दूसरे व्यक्ति की संपत्ति को हड़पना, इसमें मंदिर या कोई पुरान वस्तुएं भी हो सकती हैं तो भी इसे गलत माना जाता है।

shiv3
source:google

किसी भी गर्भवती महिला को कटु वचन और उसका दिल दुखाना भी अपराध की क्षेणी में आता है। भगवान शिव की नजरों में ये एक अक्षम्य अपराध है। किसी के सम्मान को ठेस पहुंचाने के लिए कटु वचन बोलना आपको अक्षम्य पाप का भागीदार बनाता है।

अगर आप अपने माता-पिता, अपने गुरुओं या फिर अपने पूर्वजों का अपमान करते हैं तो इसे अक्षम्य अपराध माना जाता है।

shiv4
source:google

अगर दूसरे के धन पर गलत नजर रखते हैं तो भी भगवान शिव नाराज होते हैं। किसी का धन लेकर उसे वापस ना लौटाना भी पाप की श्रेणी में आता है। अगर आप किसी नादान और निरपराध व्यक्ति को कष्ट पहुंचाते हैं तो भी इसे गलत माना गया है। भगवान शिवजी ऐसे लोगों को कभी माफ नहीं करते हैं।

जो लोग अच्छे रास्तों को छोड़कर बुरे रास्तों पर चलते हैं उनके अपराध को अक्षम्य माना जाता है। अगर आप कोई भी काम धर्म के विपरीत करते हैं तो ये भी पाप की क्षेणी में आता है।