ज्योतिष

दूर हो जाएंगी सारी परेशानियां, बस रात को सोने से पहले करें 5 में से 1 उपाय

लक्ष्मी अर्थात धन, संपत्ति, दौलत हर दिल अजीज होती है। उनकी कृपा पाने के लिए व्यक्ति दिन रात मेहनत करता है। जिसकी मेहनत सफल होती है उसके घर में महालक्ष्मी निवास करती हैं और जो असफल होते हैं वह अपनी  किस्मत को कोसते हैं। महालक्ष्मी सदैव ईमानदार और मेहनती लोगों के संग रहती हैं। महालक्ष्मी व्यक्ति के भाग्य से नहीं कर्म से प्रसन्न होती हैं।

लक्ष्मी कृपा पाने के लिए भगवान विष्णु की कृपा पाना अत्यन्त अवश्यक है क्योंकि लक्ष्मी उन्हीं के चरणों में रहकर उनकी दासी बनना पसंद करती हैं। शास्त्रों में या भगवान विष्णु के किसी भी चित्रपट अथवा श्री स्वरूप का ध्यान करके देखें मां लक्ष्मी सदैव उनके चरणों में बैठी उनके चरण दबाती ही दिखती हैं।

laxmi2
Source: Google

आज हम आपको माँ लक्ष्मी और भगवान विष्णु को खुश करने के 5 उपाय बता रहे हैं. इनमे से कोई भी उपाय रात में सोने से पहले करने से आपके जीवन के दुःख दूर हो जाएंगे. चलिए जानते हैं क्या हैं वो 5 उपाय…

पहला उपाय

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार झाड़ू को माँ लक्ष्मी का प्रतीक माना गया है. झाड़ू माँ लक्ष्मी की प्रिय होती है. आज रात को किसी एकांत मंदिर में तीन झाड़ू दान करें. ऐसा करने से माँ लक्ष्मी आपसे प्रसन्न होंगी और आपको धन का लाभ होगा.

दूसरा उपाय

सूर्यास्त होने के बाद शिव मंदिर में जाकर शिवलिंग के पास घी का दीपक जलाएं और 1008 बार ऊँ नम: शिवाय का जाप करें. जाप रुद्राक्ष की माला से ही करें. आपको बता दें ये उपाय उस शिव मंदिर में ही करना है जो सुनसान जगह पर हो.

laxmi3
Source: Google

तीसरा उपाय

भगवान विष्णु को पीली चीज़े बहुत पसंद होती हैं. घी का दीपक जलाकर विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें और भगवान विष्णु को केले, हलवा और बेसन के लड्डू का भोग जरुर लगाएं.  इसी के साथ आप माँ लक्ष्मी का भी पूजन करें. पूजन में पीली कौड़ी, गोमती चक्र और  दक्षिणावर्ती शंख रखें और पूजा के बाद इन सबको अपने घर के या ऑफिस की तिजोरी में रख लें. माँ लक्ष्मी आप पर प्रसन्न होकर आपको मालामाल कर देंगी.

चौथा उपाय

आज के दिन किसी व्यक्ति को पीले कपड़े दान करें. आज के दिन किसी का अपमान ना करें. अपने घर में साफ़ सफाई रखें. साफ़ सफाई रखने से घर में माँ लक्ष्मी का वास होता है.

पांचवां उपाय

आज सूर्यास्त के बाद पूजा वाली तुलसी के पास दीपक लगायें  और तुलसी की परिक्रमा करें. ध्यान रखे तुलसी को छूना नहीं है.

Tags
Show More

Related Articles

Close